Thursday, January 3, 2013

आइए हिंदी में लि‍खें

इंटरनेट के माध्यम से हिन्दी में आदान-प्रदान के अब यूं तो कई तरीक़े परिचलित हैं, उनमें से कुछ के बारे में आपसे जानकारी बांटते हुए मुझे प्रसन्नता हो रही है:-


1.  http://www.google.com/transliterate/ कृपया इस साइट पर जाऐं.

- यहां लिखने के लिए आपको एक खाली बॉक्स मिलेगा. इसके बाएं कोने में भाषा का विकल्प उपलब्ध है, हिन्दी या अपनी मनचाही अन्‍य भारतीय भाषा चुनें, फिर वह आराम से अंग्रेज़ी में ही टाइप की जा सकती है. सीमा ये है कि इस साइट का प्रयोग तभी हो सकता है जब इंटरनेट कनेक्टेड हो.


- इसमें आपको अंग्रेज़ी कीबोर्ड प्रयोग करते हुए टाइप करना होगा. उदाहरण के लिए यदि आप शब्द hindi टाइप करने के बाद जैसे ही स्पेस-बार दबाऐंगे तो यह स्वत: 'हिन्दी' में परिवर्तित हो जाएगा.

- अर्थात, 'मैं वहां जाता हूं' हिन्दी में लिखने के लिए मुझे यूं लिखना होगा 'mein vahan jaata hoon'

- वर्तनी/हिज्जे इत्यादि की अशुद्धि ठीक करने के लिए, अपेक्षित शब्द के अंत में जाकर बैकस्पेस दबाऐं, स्वत: कुछ विकल्प ड्रॉपडाउन मीनू में उभरेंगे, आप उनमें से कोई भी चुन सकते हैं.
- इसके बाद आप इस प्रकार की हिन्दी सामग्री को कापी कर कहीं भी (इमेल सहित) पेस्ट कर सकते हैं.
- आप इस सामग्री को माइक्रोसॉफ़्ट के वर्ड या अन्य साफ़्टवेयर में भी पेस्ट कर save कर सकते हैं. बस ध्यान इतना रखना है कि आपको पेस्ट करने के बाद समग्री का फ़ांट बदल कर Akshar Unicode करना होगा अन्यथा डिफ़ाल्ट फांट के कारण सामग्री, चौकोर डिब्बियों की तरह नज़र आएगी. Akshar Unicode फ़ॉंट इंटरनेट पर कई जगह मुफ़्त उपलब्‍ध है, गूगल से सर्च कर सकते हैं आप. 

2.  इसी तरह की सेवा http://quillpad.com/editor.html पर भी उपलब्ध है.  बस आपका आनलाइन होना ज़रूरी होगा.



3.  इसी प्रकार का एक अन्य टूल 'बारहा' है जिसे आप यहां से डाउनलोड कर सकते हैं http://www.baraha.com/

4.  आप इस लिंक को भी देख सकते हैं. यहां भी कई अन्य विकल्प उपलब्ध हैं http://www.hindi2tech.com/2011/03/10.html


5. ऑफ लाइन टूल, जिसे कि एक बार ऑनलाइन डाउन करने के बाद बिना नेट के प्रयोग के भी हिंदी में लिखा जा सके, उनकी जानकारी यहां भी है:-

Microsoft Indic Language Input Tool

http://specials.msn.co.in/ilit/Hindi.aspx


सर्वाधिक महत्वपूर्ण बात - उपरोक्त सामग्री इंटरनेट पर मुफ़्त व वैध तरीके से उपलब्ध है. यदि आप उचित समझें तो यह जानकारी अन्य हिन्दी प्रेमियों (अन्य भारतीय भाषाओ सहित) से भी, कापी/ पेस्ट कर बांट सकते हैं. हम सब न केवल अपनी भाषा में सोचते व बोलते हैं, इसी में इमेल भी भेजना चाहते हैं पर मज़बूरी के चलते अंग्रेज़ी पर निर्भर रहते आए हैं. इंटरनेट पर हिन्दी अभी भी प्रयोगात्मक दौर में हैं, इसलिए कुछ-कुछ सीमाएं उद्वेलित करती हैं पर इतनी सीमित उपलब्धता भी बहुत सुखदायी लगती है जब मैं पाता हूं कि अब मैं अपनी भाषा में इंटरनेट पर भी बात कर पा रहा हूं...



यह लिंक भी देखे जा सकते हैं






6. यदि आपको अपने कीबोर्ड में हि‍न्‍दी का कोई स्‍वर/व्‍यंजन  नहीं मिल रहा है तो आप 'Character Map' को खोल कर हिंदी फ़ॉंट चुनें और मनचाहा अक्षर  कॉपी कर पेस्‍ट कर लें. विंडोज़ में 'Character Map' आमतौर से यहां मि‍लेगा AllPrograms > Accessories > System tools.

यदि आप लीनक्‍स प्रयोग कर रहे हैं तो नीचे दि‍ए लिंक पर आपके लि‍ए दो उम्‍दा पोस्‍ट हैं:-

http://raviratlami.blogspot.in/2012/12/blog-post_18.html
http://raviratlami.blogspot.in/2012/07/12x-how-to-install-hindi-remington.html

5 comments:

  1. अब तो इन्स्क्रिप्ट ही भा गया है..

    ReplyDelete
  2. अच्छी जानकारी ...अब ऑफ लाइन टूल की जानकारी भी दीजिये ...जिस से कि एक बार ऑनलाइन डाउन करने के बाद बिना नेट के प्रयोग के भी हिंदी में लिखा जा सके।

    ReplyDelete
  3. शारदा अरोरा जी, 5 नंबर पर आॅफ़ लाइन टूल ही हैं. पोस्ट में तदर्थ एक लाइन आैर जोड़ रहा हँ.

    ReplyDelete
  4. शानदार जानकारी

    ReplyDelete

LinkWithin

Blog Widget by LinkWithin